CG News: झीरम कांड के चश्मदीद की मौत, नहीं रहे कांग्रेस नेता दौलत रोहड़ा, सीएम भूपेश बघेल ने जताया शोक

रायपुर। राजनीतिक दल से एक बहुत ही दुखद खबर सामने आई है। छत्तीसगढ़ में हुए सबसे बड़े झीरम घाटी कांड के चश्मदीद और कांग्रेस नेता दौलत रोहड़ा का आकस्मिक निधन हो गया है। बीती रात उन्होंने अंतिम सांसे ली और आखरी समय तक रोहड़ा झीरम घाटी कांड में न्याय मिलने का इंतजार कर रहे थे। सांसे रुक गई लेकिन न्याय नहीं मिला। इस कांग्रेस नेता के निधन पर मुख्यमंत्री मुकेश बघेल ने शोक जताया है।

झीरम घाटी हत्याकांड को लगभग 10 साल पूरे हो गए हैं कांग्रेस नेताओं के खून से लाल हुई घाटी और इस घटना के पीड़ित अब भी न्याय का इंतजार करते रहे हैं। 25 मई 2013 को कांग्रेस की परिवर्तन यात्रा में माओवादियों का हमला हुआ था। छत्तीसगढ़ कांग्रेसी स्तर के कई नेता मारे गए थे। जिसमें पूरे देश को हिला कर रख दिया था। झीरम हत्याकांड में कांग्रेस के तत्कालीन प्रदेश अध्यक्ष नंदकुमार पटेल, पूर्व केंद्रीय मंत्री विद्याचरण शुक्ला और बस्तर टाइगर कहे जाने वाले महेंद्र कर्मा की मौत हुई थी।

सीएम भूपेश बघेल ने अपने टि्वटर हैंडल पर वेट कर कर कहा कि कांग्रेस परिवार के वरिष्ठ सदस्य एवं समाजसेवी दौलत रोहड़ा जी के आकस्मिक निधन का समाचार दुखद है। प्रदेश कांग्रेश में प्रवक्ता के पद पर अपनी सेवाएं दी। झीरम हमले में घायल होने के बाद भी वे सेवारत रहे। उनकी आत्मा को शांति एवं परिवार जनों को दुख सहने की हिम्मत दें।

कांग्रेसी नेता दावलत रोहड़ा पूर्व केंद्रीय मंत्री विद्या चरण शुक्ला के सबसे करीबी रहे हैं शुक्ला परिवार के लिए उनकी प्रतिबद्धता को आज भी याद किया जाता है विनम्र स्वभाव के दौलत रोहड़ा सोशल मीडिया में काफी एक्टिव रहते थे।

Leave a Comment