CG Breaking News: बच्चों को फांसी लगाकर पति-पत्नी फंदे पर झूले, चारों की लाश मिली, ग्रामीणों की सूचना पर मौके पर पुलिस पहुंची

जशपुर। छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले में पहाड़ी कोरवा परिवार फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली है। सबसे पहले बच्चों को फांसी पर लटकाया फिर खुद पति पत्नी फंदे पर झूले। पति पत्नी और दो बच्चे समेत चार लोगों की लाश मिली है। ग्रामीणों के सूचना देने पर पुलिस की टीम मौके पर पहुंची। यह घटना बगीचा थाना क्षेत्र के संहार बहार बस्ती की है।

फिर हाल आत्महत्या का कारण पता नहीं चल पाया है। आपको बता दें कि पहाड़ी कोरवा एक संरक्षित जनजाति है जिन्हें राष्ट्रपति ने गोद लिया है। छत्तीसगढ़ की संरक्षित जनजाति पहाड़ी कोरवा उत्तर पूर्व और उत्तर में स्थित जिलों में पाई जाती है। यह जनजाति घने जंगलों के बीच रहती है।

आपको बता देगी छत्तीसगढ़ में 42 जन जातियां पाई जाती है जिसमें से 7 को राज्य सरकार ने पिछड़ी जनजाति घोषित किया है। इन्हीं में से एक पहाड़ी कोरवा जनजाति भी है। इनकी आबादी बहुत ही कम है। पहाड़ी कोरवा जनजाति सरगुजा, जसपुर और बलरामपुर जिले में निवास करती है।

इनकी जनजाति पूरा जीवन यापन करने के लिए हमेशा जंगलों पर निर्भर रहते हैं। इस जनजाति के संरक्षण के लिए सरकार द्वारा बहुत सारे सरकारी योजनाएं चलाई जा रही है फिर भी इन की बड़ी आबादी इन योजनाओं से वंचित है और इन्हें उसका लाभ नहीं मिल रहा है।

Leave a Comment