CG Tourism: छत्तीसगढ़ का एक ऐसा अनोखा गांव जहां गांव वालों के साथ रहते हैं 200 अजगर, छत्तीसगढ़ का अद्भुत अकल्पनीय जगह

CG Tourism: दोस्तों क्या आपने सोचा है किसी गांव में आपको साप देखने को मिले अजगर सांप दिन के उजाले मे साथ ही आपने कभी सोचा है अजगर सांपों के साथ रहना पड़े। छत्तीसगढ़ में यह गांव हैं भडेंसर जहां ऐसा होता है।

एक छोटा सा गांव है जो भड़ेसर जो जांजगीर चांपा जिले में स्थित है। वह जगह इसलिए फेमस है कि यहां लोग ऐसा मानते हैं कि यह सांपों का गांव है। इस गांव में अजगर सांपों का राज है 10 साल पहले बहुत सारे अजगर गांव में घूमते थे और लोगों का आना जाना लगा रहता था तो लोग देखते थे। इस कारण यह जगह बहुत फेमस हुआ था।

आज भी यहां अजगर सांप निकलते हैं। भड़ेसर ग्राम जांजगीर से 11 किलोमीटर और बिलासपुर से 3 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। इस गांव में एक पीपल का पेड़ है जिस पर बहुत सारे अजगर रहते हैं जिनकी संख्या 200 से ऊपर है। दोस्तों अजगर सांप इस पीपल के पेड़ में काफी समय से रह रहे हैं और हर दिन लगभग उजाले में लोगों को चार से पांच सांप देखने को मिल जाते हैं।

ठंड के दिनों में यहां ज्यादा सांप होते हैं क्योंकि वह धूप सेकने के लिए आते हैं। जिनके घर के पीपल पेड़ में सांप पाए जाते हैं उसका नाम है महात्मा राम शर्मा और वीणा शर्मा ये अपने बच्चों के साथ यहां रहते हैं और उनके छोटे-छोटे बच्चे इन अजगरो के साथ खेलते हैं। दोस्तों वैसे अजगर बहुत खतरनाक सांप होते हैं लेकिन यहां पाए जाने वाले अजगर सांप अलग से हैं। चुकि यहां लोगों के साथ आदि हो चुके हैं।

दोस्तों यहां बहुत ही अद्भुत और चमत्कारी घटना है जो कि आज पीपल पेड़ में इतने सारे अजगर रह रहे हैं। छत्तीसगढ़ का एक ऐसा मात्र गांव है जहां पीपल पेड़ पर 200 से ज्यादा सांप रहते हैं। दोस्तों ऐसा इनका होना और पाया जाना इस बात पर निर्भर करता है क्योंकि यहां पीपल का पेड़ अंदर से काफी खोखला है और यह अलीगढ़ सांपों के लिए बहुत ही प्राकृतिक आवरण लुप्त कराता हैं। जिसके कारण यहां आजगर सांपो का पाया जाना सामान्य बात हैं। अधिकाश लोग अजगर साप को देखकर भागने लगते है। लेकिन यहां गांव के लोग अजगर साप को देखने के लिए काफी मात्रा मे इक्कठे होते हैं।

Leave a Comment